Gadget

यह सामग्री अभी तक एन्क्रिप्ट किए गए कनेक्शन पर उपलब्ध नहीं है.

बुधवार, 26 मई 2010

जिन्दगी छोटी सी

कर चुके झगडा बहुत, मत रोइए
जिन्दगी छोटी सी है , मत खोइए

बात करने को समय मिलता नहीं
मौन रह कर वक़्त को मत खोइए

हो गया बस ,कह लिया कुछ सह लिया
पोंछ कर आंसू , ये चेहरा धोइए

फेर कर मुंह कर चुके अभिनय बहुत
अब जरा कंधे पे सर रख सोइए

3 टिप्‍पणियां: